पंडित जवाहरलाल नेहरू

Mission of Friendship (Part-I) Prime Minister Nehru in the USSR & Europe

This concentration camp at Auschwitz is preserved as a reminder of the trials and tribulations of the Polish people under Hitler’s regime. The Polish premier himself was an inmate of the camp.

One of the barracks has been turned into a national museum. Here the story of Auschwitz is retold.

At the simple memorial of those who perished at Auschwitz, Mr. Nehru lays a wreath on India’s behalf.

And on to ancient Cracow a city that is over a thousand years old, a city of castles and churches.

Everywhere he goes he’s showered with affection. ‘Bravo, the greeting that rings through historic Cracow.

The cavalcade arrives at Weleau castle, almost as old as Cracow itself.


The new Iron and Steel Works at Cracow. It will soon be the largest steel supplying plant in the country; one of the foundations of Poland’s rapidly expanding industrial sector.

Back from a tour of the Provinces, the Prime Minister attends a ‘Warsaw meets Nehru’ meeting at the Deuvargauv Indoor Stadium.

The Mayor confers on Mr. Nehru the honorary citizenship of Warsaw.

A cardiograph is also presented as a gift from the Polish people to the people of India.

Thanking the people of Warsaw for the honour conferred on him, Mr. Nehru says: A valiant city called Warsaw, I can assure you that I consider this a very great privilege which I honour greatly.
 

Clip: 8/14
Duration : 3 mins 41 sec

संकेतशब्द: अंतर्राष्‍ट्रीय मुद्‍दे,व्‍यक्‍ति, स्‍थान एवं वस्‍तुएं
खोज विडियो ऑडियो अग्रिम खोज

श्रेणी
ऑडियो/विडियो की सूचीकरण के लिए श्रेणी पर क्लिक करें
जीवनवृत्त (148 | 0 )
तिथि, अवसर/घटनाएं,स्‍थल (26 | 15 )
व्‍यक्‍ति, स्‍थान एवं वस्‍तुएं (179 | 10 )
राजनैतिक मुद्‍दे (99 | 1 )
आर्थिक मुद्‍दे (8 | 2 )
सामाजिक मुद्‍दे (94 | 6 )
विकासपरक मुद्‍दे (28 | 15 )
अन्‍तर्राष्‍ट्रीय मुद्‍दे (59 | 0 )
उद्ग‍ार (42 | 0 )

पंडित जवाहरलाल नेहरू

भारत के प्रथम प्रधानमंत्री पंडित जवाहरलाल नेहरू बहुमुखी प्रतिभा के धनी थे। वे एक लेखक, युगदृष्‍टा और कर्मयोगी थे। इंग्‍लैंड से लौटकर वे भारतीय राष्‍ट्रीय कांग्रेस में शामिल हुए थे। उनके करिश्‍माई व्‍यक्‍तित्‍व और अभूतपूर्व सक्रियता ने उन्‍हें स्‍वाधीनता आंदोलन की पहली क़तार में ला खड़ा किया था। महात्‍मा गांधी उनके रहनुमा थे, उन्‍होंने ही पंडित नेहरू को अपने राजनीतिक उत्तराधिकारी के रूप में प्रस्‍तुत किया था। नेहरू समाजवादी विचारों से गहरे प्रभावित थे और लोकतांत्रिक आदर्शों के प्रति प्रतिबद्घ थे। नेहरू में भारत की बहुसांस्‍कृतिक और बहुधार्मिक संस्‍कृति के प्रति गर्व का भाव था और उन्‍होंने सदियों की जड़ता से निकलने के लिये लोगों में वैज्ञानिक चेतना भरने की कोशिशें कीं। उन्‍होंने औपनिवेशिक ग़ुलामी से बदहाल भारत को एक शानदार आधुनिक राष्‍ट्र बनाने का सपना देखा। गुटनिरपेक्ष आंदोलन के संस्‍थापकों में उनका नाम बड़ी इज्‍़ज़त से लिया जाता है और वे एफ्रो-एशियाई भाईचारे के सूत्रधार भी थे।


लोकप्रिय खोज
ऑडियो/विडियो देखने के लिए लिंक पर क्लिक करें
नेहरू – पं. जवाहरलाल नेहरू भारत रत्‍न
नेहरु - रेमेम्बेरिंग नेहरु एप-१
नेहरु- रेमेम्बेरिंग नेहरु (एपिसोड-II)

जीवन-वृत्त
1889, November 14
Birth of Pandit Jawaharlal Nehru
1905 to 1907
Studied at Harrow School , Middlesex
1910
Left Cambridge after taking the Natural Sciences Tripos. Joined the Inner Temple , London , and qualified for the Bar