श्रीमती इंदिरा गांधी

ंदिर– Indira Gandhi Visit to Aakhil Bhartiya Aadivasi Vikas Parshad

इंदिराांधी 
अच्‍छामारीकतदूसरदेशोकीकतजैसीहीहैबहुतदेशोमेसमझाातहैि एकतामानेैंि एक्रकाकेोगों, एक्रकाकेपड़ेहनें, एक्रकाकेाषाएबोलें,धर्महों,हुसेसेुनियमेदेहैं,ेकिनारकीकतमेविचित्रतरहहैवोहैि हमसकसमझतहैकिविशेषतहमारहै, वोहुही़रूरहैवोमारेेशसौंदर्कोढ़ातहैहममझतेैंि हमारशक्‍तिभीढ़ातहैऔरसीलिजितनभारतभाषाएंैं, उनकोप्रोत्साहनरहहैं,नकबढ़ानेकोशिकरहेैंजितनभारतअलग-अलप्रकारकलहै, संगीहै, हस्‍तकार्यैं, नृत्हैं,िशेषरकलोकनृत्‍जोैं, उनकोबढ़ावाेनकीोशिशरतहैं।मुझेबहुतदुःखोतहै, जबदिवासीोगुछपनछोड़औरूसरोकेैसबननेकोशिकरेंहमारजीाहताकिउनकेरहपड़ेहनेंवेसुंदचीज़ोंछोड़नेेंगेैंहोकतहैि अगकामेतकलीफ़ो,उसकेिये,समकेियदूसरकुपहनेलेकिआमतौसेपनसभ्‍यतजोै,सकरखनााहिएकईीज़ेतोदलनीैंगर्‍वास्थ्ठीनहींै,वोजाजादू-वादकेेखनाकििस्रकाका्‍वास्थ्का्रबंहो, जिससकिच्चोकोबड़ोका्‍वास्थ्अच्‍छाहेइसप्रकारकईगहेतकेरीक़ऐसहैं,िससेनकभीुक़सानोतहै, देकोुक़सानोतहैतोसमेंपरिवर्तनरनहैहरीजकोसेौलनाकिौनीजहै, जोजककेुगेंगहहीरखतीै।ेकिनयेलाी,िबासी,ानकीसबीज़ेहैऔर, औरअपनीभ्यतकीातेंैं, उनकोहमेंखनहैजिबहुतदेशोनेपनखोियऔरकोशिकरहेैंि नक़लतरसेसकफिलायें,बड़ाुश्‍किहोातहै, क्योंकि वो़ौरनिखातहैआपकोालूमै,सेमारेहाभीहुसेूसरेोगभी-कभीोशिशरतहैकिोकनृत्करेंेकिनदेखतहैउनको़ौरनालूमजाताकिेनक़लीीजहैतोसलचीज़असलीत्हैमारेेशा,भ्यतका, उसकोमेनहींोनचाहिए।ेवइसलिनहींि येृत्‍औरानुंदरैंेकिननकसंकुभावनाएबंधीुईैं, कुइतिहासंधहुहैभावनएककिीवकाक्या? जोोगहरेंहतहैं,उसकोूलातहैं।हुसेोगाहकेतेैं, वोहतहैक्याारहैि कभी-कभजोबसग़रीलोहैं,सबसे़्यादाातहैं,ाचतेैं, हंसतहैं,हानियाकहतेैंसबसेनीेश, आपाइवहांसड़कोंे,भीुस्‍करातहुशक्‍आपकोहीदिखेगीसबिंतादबहुहैं।्‍यानकचिंतहै ?नकपाधनै,नकमज़दूरैं, वोपनकारख़ानेोटमेबैकेातहैं,ेकिननकदेखितोउनकेदिमेख़ुशथी, प्रसन्नतथी, वोकिसीनकग़रीबीसंकठिनाईसंवोबहयीाहर।

Clip: 2/6
Duration : 3 mins 39 sec

संकेतशब्द: उद्ग‍ार,सामाजिक मुद्‍दे
खोज विडियो ऑडियो अग्रिम खोज

श्रेणी
ऑडियो/विडियो की सूचीकरण के लिए श्रेणी पर क्लिक करें
जीवनवृत्त (18 | 0 )
तिथि, अवसर/घटनाएं,स्‍थल (26 | 0 )
व्‍यक्‍ति, स्‍थान एवं वस्‍तुएं (161 | 0 )
राजनैतिक मुद्‍दे (159 | 0 )
आर्थिक मुद्‍दे (72 | 0 )
सामाजिक मुद्‍दे (170 | 0 )
विकासपरक मुद्‍दे (111 | 0 )
अन्‍तर्राष्‍ट्रीय मुद्‍दे (44 | 0 )
उद्ग‍ार (180 | 0 )

श्रीमती इंदिरा गांधी

पंडित जवाहरलाल नेहरू की इकलौती संतान इंदिरा गांधी स्‍वाधीनता आंदोलन के हलचल भरे दिनों में पली-बढ़ीं। राजनीतिक उथल-पुथल के बीच उनकी पढ़ाई कई बार बाधित हुई। इंदिरा गांधी पर अपने पिता का गहरा प्रभाव था और पिता उन पर बहुत भरोसा करते थे। कांग्रेस पार्टी में एक कार्यकर्ता की भूमिका से आगे बढ़ते हुए वे अनेक ज़िम्‍मेदारियों में रहीं और आख़िरकार पार्टी की प्रमुख नेता बनीं। बैंकों का राष्‍ट्रीयकरण और तत्‍कालीन रजवाड़ों के विशेषाधिकारों को समाप्‍त करते हुए वे एक लोकप्रिय नेता के बतौर उभरीं। हरित क्रांति और शांतिपूर्ण परमाणु परीक्षण के साथ-साथ अंतरिक्ष में एक भारतीय उपग्रह की सफल स्‍थापना के बाद उनकी लोकप्रियता बढ़ती गयी। बंगलादेश की स्‍वतंत्रता के समय वे बड़ी कठोरता से पेश आयीं। उनके कठोर आलोचक तक यह मानते हैं कि वे भारत को बहुत प्‍यार करती थीं और राष्‍ट्रीय हितों के साथ समझौता नहीं कर सकती थीं। राष्‍ट्र की एकता और अखंडता की रक्षा करते हुए वे शहीद हुईं।


लोकप्रिय खोज
ऑडियो/विडियो देखने के लिए लिंक पर क्लिक करें
इंदिरा - इंदिरा प्रियदर्शिनी
इं‌दिरा - श्रीमती इंदिरा गांधी का जन-सम्‍बोधन
इंदिरा – श्रीमती गांधी की सुलह कुल यात्रा

जीवन-वृत्त
1917, November 19
Indira Priyadarshini was born at Anand Bhawan (Abode of Happiness), in Allahabad.
1920 to 1921
Mahatma Gandhi came to Anand Bhawan, Allahabad for the first time when Indira was about three years old.
1922, January
Stayed at Mahatma Gandhi’s Sabarmati Ashram at Ahmedabad.