श्री राजीव गांधी

ंडिपेंडेंसस्पीच-१९८५

राजीगांध
लेकिचाहेकितनतरक़्क़ीरें,ितनीआर्थिकरक्‍़क़ीरें।गरहमारविरासतजाएं, अगहममारीुरानपरम्परखोाएं,मारींस्‍कृतिूलाएं,मारीभ्यतखोाएं,मैसमझूंगकिोईविकानहींुआै।मेदेखनहैि आर्थिकिकाससाभारतचरित्रेंतनहीिकासो,तनहीक्तियेयेरनकेिये,देरहहैकिनयशिक्षाढांचइसमहीनहमपकसामनरखेंगेहमारउम्‍मीहैससएकयीागृति आयेगभारतें, कोने-कोनमें,ांव-गांवें, एकयीफ़्तारभारतगेढ़नेगेगाहमेंेखनाकिारकेोने-कोनेेंानवीविकापूरेरहहोयेरनकेियहमारसामनबहुतुनौतियांयेंगी।ेकिनायसबसेड़चुनौतीमारेपसझगड़हैं।ाहधर्म, चाहेाति,ाहप्रांतवायााषावादहोहमेंेखनाकिझगड़बढ़कउग्रतानहींहुंचाएं।मेदेखनहैि येगड़ेमारेोकतंत्केड़कमज़ोरहीकरेंऐसझगड़भारतकमज़ोररतहैं,ारकेिकासधीमेरतहैं।िछलेालोंेंहुलोगोनेसेगड़ोमें,ग्रवादेंपनजादीै।से38ालुए, गांधजीदीी।सेदसहीनेुएंदिरजीदीआजमेसाम्प्रदायिकगड़े़त्‍करेनहैं।ाम्‍प्रदायिकगड़ोमेदेकाहुबड़ाुक़सानुआख़ालगांधजी, इंदिरामेनहींल्किव्यक्‍तिेंलेकिजबोईड़नेतािरताै,ैसगांधजी, जैसेंदिरजी, तबुनियकेोने-कोनेेंसकअसहोताै।ंदिरजीालभारतनेताहीथीं,ूरदुनियाानहीकिंदिरजीुनियके़रीबोंनेताीं
 

Clip: 5/9
Duration : 3 mins 35 sec

संकेतशब्द: उद्ग‍ार,राजनैतिक मुद्‍दे,व्‍यक्‍ति, स्‍थान एवं वस्‍तुएं ,विकासपरक मुद्‍दे,सामाजिक मुद्‍दे
खोज विडियो ऑडियो अग्रिम खोज

श्रेणी
ऑडियो/विडियो की सूचीकरण के लिए श्रेणी पर क्लिक करें
जीवनवृत्त (16 | 2 )
तिथि, अवसर/घटनाएं,स्‍थल (17 | 17 )
व्‍यक्‍ति, स्‍थान एवं वस्‍तुएं (87 | 7 )
राजनैतिक मुद्‍दे (93 | 12 )
आर्थिक मुद्‍दे (42 | 7 )
सामाजिक मुद्‍दे (85 | 10 )
विकासपरक मुद्‍दे (70 | 11 )
अन्‍तर्राष्‍ट्रीय मुद्‍दे (28 | 1 )
उद्ग‍ार (100 | 0 )

श्री राजीव गांधी

भारत के युवतम प्रधानमंत्री राजीव गांधी को देश आज भी तहेदिल से याद करता है कि उन्‍होंने इक्‍कीसवीं सदी में भारत को पूरे आत्‍मविश्‍वास के साथ ले जाने का स्‍वप्‍न देखा। राजनीति में आने के अनिच्‍छुक राजीव गांधी ने अपना केवल एक कार्यकाल ही प्रधानमंत्री के बतौर गुज़ारा लेकिन देश पर अपनी अमिट छाप छोड़ी। आर्थिक उदारीकरण की प्रक्रिया उनके ही समय में शुरू हुई थी और उन्‍होंने ही विकास की कई परियोजनाएं आरम्‍भ कीं, जिन्‍हें हम आज नेशनल मिशन्‍स के रूप में जानते हैं। राजीव गांधी ने ज़िम्‍मेदारियों को पूरा करने की भावना को गति दी और लाखों भारतीय युवकों में तकनीक के प्रति उत्‍साह भरा। उनके द्वारा परिकल्‍पित टेलीकॉम मिशन ने भारत में सूचना और संचार-क्रांति की आधारशिला रखी। भारतीय समाज में ‘राजीव युग’ को युगांतरकारी माना जायेगा।


लोकप्रिय खोज
ऑडियो/विडियो देखने के लिए लिंक पर क्लिक करें
राजीव – फूलवालों की सैर
राजीव - स्‍वतंत्रता दिवस पर राष्‍ट्र के नाम संदेश
राजीव - बज्म: इनागुरेशन ऑफ़ उर्दू कंप्यूटर बी श. राजीव गाँधी

जीवन-वृत्त
1944, August 20
Birth of Rajiv Gandhi in Mumbai
1945
Rajiv, along with his mother Indira Gandhi, went to Anand Bhavan in Allahabad
1946, December 14
Birth of younger brother Sanjay Gandhi